Thursday, 14 December 2017, 2:28 AM

धर्म कर्म

दीवाली के बाद हो जाए कुछ ऐसा, समझ जाएं लक्ष्मी छोड़ने वाली हैं आपका घर

Updated on 4 November, 2016, 0:03
लक्ष्मी के प्रिय दिनों में दीवाली अत्यधिक महत्व रखती है। इस दिन महालक्ष्मी का अपने घर में बसेरा बनाने के लिए हर व्यक्ति भरपूर प्रयत्न करता है। क्या आपके घर में मां का प्रवेश हुआ है या नहीं इस लेख के मध्ययम से हम अपने पाठकों को बताते हैं की... आगे पढ़े

Unmarried अवश्य पढ़ें ये खबर, 11 नवंबर से खा सकेंगे शादी का लड्डू

Updated on 2 November, 2016, 13:13
विवाह का शुभ दिन व मुहूर्त ज्ञात करने हेतु अनेक निश्चित सूत्र वैदिक ज्योतिष में उपलब्ध हैं। वैदिक ज्योतिष के अनुसार विवाह मुहूर्तों हेतु पंचांग शुद्धि आवश्यक है। विभिन्न ज्योतिष ग्रंथो के अनुसार मुहूर्त चिन्तामणि और धर्मसिन्धु के अनुसार शुक्र अस्त व गुरु अस्त के साथ-साथ अधिक मास के समय... आगे पढ़े

गंगोत्री धाम के कपाट 6 महीने के लिए बंद, केदारनाथ के कपाट भी मंगलवार को हो जाएंगे बंद

Updated on 31 October, 2016, 12:45
गंगोत्री धाम के कपाट शीतकाल के लिए बंद कर दिए गए हैं. आज दोपहर पूरे विधि-विधान के साथ गंगोत्री धाम के कपाट बंद कर दिए गए हैं. सोमवार दोपहर ठीक 12:22 बजे गंगोत्री धाम के कपाट शीतकाल के लिए बंद कर दिए गए हैं. केदानाथ और यमुनोत्री के कपाट मंगलवार को... आगे पढ़े

विश्वकर्मा पूजन: हिन्दू शिल्पी कर्म की उन्नति के लिए करता है इनकी आराधना

Updated on 31 October, 2016, 0:03
शिल्पी वर्ग दीपावली के दूसरे दिन शिल्पकला के अधिदेवता भगवान विश्वकर्मा की पूजा करता है। देवताओं के समस्त विमानादि तथा अस्त्र-शस्त्र इन्हीं के द्वारा निर्मित हैं। लंका की स्वर्णपुरी, द्वारिका-धाम, भगवान जगन्नाथ का श्रीविग्रह इन्होंने ही निर्मित किया। इनका एक नाम त्वष्टा है। सूर्य पत्नी संज्ञा इन्हीं की पुत्री हैं।... आगे पढ़े

दिवाली पर 600 साल बाद इस महायोग में विराजेंगी लक्ष्मी

Updated on 29 October, 2016, 0:04
इस बार दीवाली पर 600 साल बाद प्रीति और पद्म योग का संयोग बन रहा है। सायंकाल पड़ने वाले इस संयोग में महालक्ष्मी की स्थापना करने से सुख, समृद्धि व वैभव बढ़ेगा। सर्वश्रेष्ठ फल पाने के लिए विद्यार्थियों, कृषकों व व्यापारियों को आधी रात बाद पड़ने वाले मुहूर्त में महालक्ष्मी... आगे पढ़े

उपाय: 29 अक्टूबर का शनिवार है खास, बचाएगा शनिदेव के प्रकोप से

Updated on 29 October, 2016, 0:03
शनि दोष से व्यक्ति के जीवन में कई परेशानियां आ सकती हैं। इन परेशानियों से बचने के लिए उपाय करने बहुत जरूरी होते हैं। शनि की महादशा या अंतर्दशा, शनि की साढ़ेसाती, शनि का ढ़इया या शनि की दृष्टि। जो भी लोग शनि की महादशा या अंतर्दशा से गुजर रहें... आगे पढ़े

देवी लक्ष्मी को करना है प्रसन्न तो दिवाली पर भूलकर भी न करें ये काम

Updated on 28 October, 2016, 20:46
दिवाली पर सभी मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए अलग-अलग तरह के उपाय करते हैं। लेकिन यहां हम आपको बता रहे हैं कुछ ऐसी बातें बता रहे हैं जिनका ध्यान रखना बहुत महत्वपूर्ण है। 1.आजकल बाजार में तरह-तरह की भगवान गणेश और लक्ष्मी की मूर्ति मिलती हैं। लेकिन लक्ष्मी पूजन... आगे पढ़े

दिवाली नहीं, धनतेरस है 'धन' का दिन

Updated on 28 October, 2016, 0:05
स्वास्थ्य और समृद्धि के बीच की जागरुकता का पर्व है धनतेरस, जो प्रत्येक वर्ष कार्तिक कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी को मनाया जाता है। आध्यात्मिक मान्यताओं में दीपावली की महानिशा से दो दिन पहले जुंबिश देने वाला यह काल यक्ष यक्षिणीयों के जागरण दिवस के रूप में प्रख्यात है। यक्ष-यक्षिणी स्थूल... आगे पढ़े

धनलाभ और यश चाहिए तो दिवाली पर मां गजलक्ष्मी की पूजा कीजिए

Updated on 28 October, 2016, 0:02
इस दिवाली मां गजलक्ष्मी की पूजा कीजिए.. दिवाली करीब है और आपने मां लक्ष्मी को खुश करने के लिए कई तरह के काम करने शुरू भी कर दिए होंगे। हालांकि हम आपको बता दें कि मां लक्ष्मी के कई ऐसे रूप हैं जिनकी आराधना के बगैर उन्हें खुश करना थोड़ा मुश्किल... आगे पढ़े

धनतेरस पर धन प्राप्ति के अचूक उपाय

Updated on 27 October, 2016, 0:05
कार्तिक कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी, जिसे धन त्रयोदशी या धनतेरस भी कहा जाता है, को लक्ष्मी, कुबेर और धन्वंतरि का दिन भी माना जाता है। इसके नाम में धन और तेरस शब्दों के बारे में मान्यता है कि इस दिन खरीदे गए धन (स्वर्ण, रजत) में 13 गुना अभिवृद्धि हो... आगे पढ़े

दीपावली पर करें 5 रूपए का खर्च, उम्र भर रहेंगी लक्ष्मी आप के घर में और ऐश करेंगे

Updated on 25 October, 2016, 8:42
साबुत धनिया रखे रहने दें। अगले दिन प्रातः साबुत धनिए को गमले में बो दें। ऐसी मान्यता है कि अगर साबुत धनिए से हरा-भरा स्वस्थ पौधा निकले तो आर्थिक स्थिति सुद्रिड़ रहती है। अगर धनिए का पौधा पतला है तो सामान्य आय होती है। पीला व बीमार पौधा निकले या... आगे पढ़े

धनतेरस पर धन प्राप्ति के अचूक उपाय

Updated on 24 October, 2016, 9:50
कार्तिक कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी, जिसे धन त्रयोदशी या धनतेरस भी कहा जाता है, को लक्ष्मी, कुबेर और धन्वंतरि का दिन भी माना जाता है। इसके नाम में धन और तेरस शब्दों के बारे में मान्यता है कि इस दिन खरीदे गए धन (स्वर्ण, रजत) में 13 गुना अभिवृद्धि हो... आगे पढ़े

​दीपावली पंचपर्व: शुभ मुहूर्त में की पूजा तो जमकर होगी धनवर्षा

Updated on 23 October, 2016, 0:06
धन और ऐश्वर्य की प्रतीक मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने का पर्व दीपावली शुक्रवार को धनतेरस के साथ शुरू हो जाएगा। इस दिन चिकित्सक धनवंतरि जयंती मनाएंगे। केशवनगर स्थित श्रीहरिकेश महादेव मंदिर के पंडित सियाराम तिवारी के अनुसार धरतेरस पर सरसों के तेल का यम दीपक शाम 5:20 से 6... आगे पढ़े

23 अक्तूबर: रवि पुष्य का महायोग, राशि अनुसार खरीदारी कर बनें धन कुबेर

Updated on 22 October, 2016, 16:05
अगर आप दीपावली पर्व से पहले कोई शुभ कार्य करने के इच्छुक हैं तो आपके लिए सुनहरा मौका आ गया है। अनुसार साल 2016 में रविवार दिनांक 23.10.16 को पूरे दिन रवि पुष्यामृत योग बनने से ये दिन खरीदी व निवेश के लिहाज से अत्यधिक ही शुभ रहेगा। इस मुहूर्त... आगे पढ़े

अहोई अष्टमी कल: ये है व्रत का महत्व और पूजा विधि

Updated on 21 October, 2016, 14:33
कल 22 अक्टूबर को कार्तिक कृष्ण पक्ष की सप्तमी और अष्टमी पर पडऩे वाली अहोई माता का व्रत है। करवा चौथ के 4 दिन बाद और दीपावली से 8 दिन पूर्व पडऩे वाला यह व्रत, पुत्रवती महिलाएं ,पुत्रों के कल्याण,दीर्घायु, सुख समृद्घि के लिए निर्जल करती हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में... आगे पढ़े

साल में एक बार आता है धन के देवी-देवता को प्रसन्न करने का खास मौका

Updated on 21 October, 2016, 0:19
पंच पर्व में आने वाली त्रयोदशी को धनतेरस (28 अक्टूबर, शुक्रवार) व अमावस्या (30 अक्टूबर, रविवार) पर पड़ने वाली दीपावली का बहुत महत्व है। यह साल के दो ऐसे दिन हैं, जब धन के देवी-देवता को प्रसन्न करने का खास मौका प्राप्त होता है। धनतेरस पर कुबेर देव और दीवाली... आगे पढ़े

आजमा कर देखें ये तरीके, देखते-देखते पलट जाएगी किस्मत

Updated on 19 October, 2016, 16:31
अगर आपके भी बने काम बिगड़ जाते हैं, लाख कोशिशों के बाद भी पैसे नहीं रुकते. आप चाहकर भी वो नहीं कर पाते जो करना चाहते हैं तो घबराइए मत हम बताते हैं आपको कुछ ऐसे उपाय जो आपकी इन सब परेशानियों को हमेशा के लिए दूर कर देंगे. शास्त्रों में... आगे पढ़े

आखिर क्यों मनाया जाता है करवाचौथ!

Updated on 19 October, 2016, 10:42
नई दिल्ली। आज सुहागिनों का त्योहार करवाचौथ है, इस दिन सुहागिनें अपने पति की लंबी उम्र के लिए व्रत रखती हैं। पति की लंबी उम्र और अखंड सौभाग्य की प्राप्ति के लिए इस दिन चंद्रमा की पूजा की जाती है। चंद्रमा के साथ- साथ भगवान शिव, पार्वती जी, श्रीगणेश और कार्तिकेय की... आगे पढ़े

करवाचौथ का चांद लगा सकता है कलंक का दाग!

Updated on 18 October, 2016, 21:42
भारतीय महिलाओं की आस्था, परंपरा, धार्मिकता, अपने पति के लिये प्यार, सम्मान, समर्पण करवाचौथ व्रत में काफी हद तक निहित है। इस व्रत को लेकर सुहागनों में काफी उत्साह रहता है। इस दिन का इतंजार सुहागने बड़ी ही बेसब्री से करती हैं और अपने पति की लंबी आयु के लिए... आगे पढ़े

भगवान की इन मूर्तियों की नहीं करनी चाहिए पूजा, जानिए क्यों?

Updated on 15 October, 2016, 18:24
हिंदू धर्म के लगभग सभी के घर में भगवान की मूर्तियां होती हैं, जिनकी हम पूजा करते हैं। कई ऐसे भी घर हैं जिन्होंने अपने घर में मंदिर बनवा रखा है, लेकिन क्या आपको पता है कि हमें अपने घरों या मंदिरों में किन मूर्तियों की पूजा नहीं करनी चाहिए?... आगे पढ़े

रावण संहिता में बताए हैं अपार धन प्राप्ति के सरल उपाय

Updated on 14 October, 2016, 0:02
दशानन रावण सभी शास्त्रों का जानकार और श्रेष्ठ विद्वान था। रावण ने ज्योतिष, तंत्र, मंत्र जैसी अनेक किताबों की रचना की थी। इन्हीं में से एक रावण संहिता है। इसमें रावण ने बिल्व पत्र पूजन का विशेष महत्व बताया है। ज्योतिषशास्त्रियों के अनुसार रावण संहिता के अध्याय 4 में बिल्व... आगे पढ़े

द्रोपदी कर्ण से विवाह करना चाहती थीं लेकिन

Updated on 12 October, 2016, 18:14
द्रोपदी कर्ण से विवाह करना चाहती थीं लेकिनद्रोपदी कर्ण से विवाह करना चाहती थीं, हुआ यूं कि द्रोपदी कर्ण का चित्र देखकर उन्हें पसंद करने लगी थीं। जब स्वयंवर का दिन आया तो द्रोपदी की दृष्टि सभी राजाओं और पांडवों में से कर्ण महाभारत में वैसे तो कई पात्र हैं। लेकिन... आगे पढ़े

हनुमानजी की इन नामों को ग्यारह बार जााप करने वाला व्यक्ति दीर्घायु होता है

Updated on 11 October, 2016, 23:44
हनुमान के स्मरण मात्र से ही भूत-प्रेत, पिशाच तथा अनिष्टकारी शक्तियाँ दूर भाग जाती हैं। महावीर, ज्ञान, वैराग्य, बुद्घि के प्रदाता की साधना के अनेक रूप प्रचलित हैं। हनुमान जी को चमत्कारिक सफलता देने वाला देवता माना जाता है। श्री हनुमान जी की भक्ति करने वाले को बल, बुद्धि और... आगे पढ़े

इस मुस्लिम बाहुल्य देश में भी है अयोध्या

Updated on 10 October, 2016, 12:43
भारत में अयोध्या उत्तर फैजाबाद जिले का एक शहर है। यह वही स्थान है जहां त्रेतायुग में प्रभु श्रीराम ने जन्म लिया था। यह शहर सरयू नदी (घाघरा नदी) के दाएं तट पर बसा है। लेकिन दुनिया के मुस्लिम बाहुल्य देशों में से एक इंडोनेशिया में भी अयोध्या नगरी है। इंडोनेशिया... आगे पढ़े

नवमी-दशमी पर कुछ यूं सजती हैं बंगाल की औरतें

Updated on 10 October, 2016, 10:40
वैसे तो दुर्गा पूजा में बंगालियों का फैशन देखने को बनता है। षष्ठी, सप्तमी, अष्टमी, नवमी और दशमी ये पांच दिन बंगाल में फैशन के अलग-अलग रंग देखने को मिलते हैं। पूजा के हर दिन अलग-अलग कपड़े होते हैं। लेकिन अगर हम औरतों की बात करें, तो भई उनके फैशन... आगे पढ़े

तो क्या इसीलिए मनाते हैं दशहरा

Updated on 9 October, 2016, 11:10
व्यक्ति और समाज के रक्त में वीरता प्रकट हो इसलिए दशहरे का उत्सव रखा गया है। दशहरा का पर्व दस प्रकार के पापों- काम, क्रोध, लोभ, मोह, मद, मत्सर, अहंकार, आलस्य, हिंसा और चोरी के परित्याग की सद्प्रेरणा प्रदान करता है। विजयादशमी का दूसरा नाम दशहरा भी है। जब अहंकारी रावण... आगे पढ़े

कंजक पूजन के बाद करेंगे यह काम, बढ़ेगा बैंक बैलेंस

Updated on 8 October, 2016, 13:53
नवरात्रि में कुमारी पूजन या ‘कंजक पूजन’ का विशेष महत्व है। कहा जाता है कि कन्या पूजन से सभी प्रकार की सुख-सम्पदा मिलती है। इससे मनोवांछित कामनाएं पूर्ण होती हैं।   नवरात्रि में व्रत के समापन पर कन्याओं को भोजन कराने, उनका अर्चन-पूजन करने का विशेष महत्व बताया गया है। यूं तो... आगे पढ़े

आज शास्त्रों के अनुसार करें शराब का विशेष उपाय, लौट आएंगे अच्छे दिन

Updated on 8 October, 2016, 0:03
शनिवार का दिन शनि और काली को संबोधित होता है और इसी दिन शारदीय नवरात्र की सप्तमी पड़ रही है। जिसका संबंध देवी कालरात्रि से है। शास्त्रों से ज्ञात होता है की शनिदेव स्वयं महाकाल के भक्त और यम के अनुज हैं। काल का अर्थ अंधेरे से लिया गया है,... आगे पढ़े

कन्या भोज के बिना अधूरी है नवरात्रि पूजा, पढें, पूरी पूजन विधि

Updated on 8 October, 2016, 0:03
शास्त्रों में नवरात्रि के अवसर पर कन्या पूजन या कन्या भोज को अत्यंत ही महत्वपूर्ण बताया गया है। नवरात्रियों में देवी मां के सभी साधक कन्याओं को मां दुर्गा का दूसरा स्वरूप मानकर उनकी पूजा करते हैं। सनातन धर्म के लोगों में सदियों से ही कन्या पूजन और कन्या भोज... आगे पढ़े

कुंवारों की एक ही आस झोली भर देगा देवी कात्यायिनी का न्यास

Updated on 7 October, 2016, 0:02
श्लोक: या देवी सर्वभू‍तेषु कात्यायिनी रूपेण संस्थिता। नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:॥   अवतार वर्णन: पराशक्ति दुर्गा के छठे स्वरूप में नवरात्र की षष्ठी तिथि पर मां कात्यायिनी के विग्रह पूजन का शास्त्रों में आलेख है। महर्षि कत के गोत्र में उत्पन्न हुए उनके पौत्र महर्षि कात्यायन। महर्षि कात्यायन ने पराम्बा दुर्गा की... आगे पढ़े