बधाई हो जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन आज भिखमतिया पहुंच गई राज्यपाल महोदय के पास
अनूपपुर - बधाई इसलिए दे रहे है आप को की सायद आप के निक्कम्मेपन पन ने समय रहते आंखे खोल ली होती और गरीब असहाय भिखमतिया को न्याय दे दिए होते तो सायद आज नही कभी भी प्रदेश के राज्यपाल से न मिल पाती पर आप के निक्कम्मेपन को बधाई की आज आप की वजह से उसकी जमीन उसे मिले न मिले आज प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन से मुलाकात जरूर करवा दी

दरसल भिखमतिया बाई लगातार अपने जमीन हथियाने वालों पर कार्यवाही की शिकायत अनूपपुर पुलिस,अनूपपुर कलेक्टर सहित सभी जिम्मेदारों तक पहुंचाई पर जिला प्रशासन और पुलिस सब राजनैतिक रसूख,पैसे की ठसक के आगे नतमस्तक हो गये और भिखमतिया बाई गांधी के रास्तों पर चलते हुए सत्याग्रह का रास्ता चुना पर नेताओं की ठसक और पैसे के सामने जिम्मेदार नतमस्तक नजर आए और भिखमतिया को मजबूर कर दिया दर दर भटक कर न्याय पाने के लिए 
शर्म आनी चाहिए एक बुजुर्ग जिसके पास खाने को भी दाने मयस्सर नही होते सबसे पहले तो उसकी शिकायत को अनसुना कर दिया गया तो वही उसकी जमीन कब्जियाये बैठे मठाधीशों ने भी इस गरीब की न समझी और करोड़ों की जमीन निगल गये और सब तरफ सिर्फ एक ही काम रहा कि कैसे इस मामले में भिखमतिया  को पीछे किया जाए ऐसे में पूर्व विधायक रामलाल रौतेल ने न्याय की एक आश दिखाई और आज गरीब भिखमतिया के साथ खुद न्याय दिलवाने जिम्मेदारों के दरवाजों पर जा रहे है पर धन्य है अनूपपुर का जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन जो भिखमतिया को न्याय न दिला सके और चंद पैसे वालों और कुछ सफेद पोश नेताओं के सामने नतमस्तक हो गए