निक्की मोबाइल जैतहरी की काली करतूत,ग्राहकों को लगा रहा चूना,जैतहरी पुलिस की कार्यप्रणाली संदेहास्पद
अनूपपुर - जिले के जैतहरी में संचालित निक्की मोबाइल शॉप की ऐसी काली करतूत जिसे देख कर आप भी हैरान हो जायेंगे और तो और चोरी और सीना जोरी भी करने से बाज नही आते इस दुकान के संचालक 
दरसल जैतहरी के एक पत्रकार दीपक महरा ने निक्की मोबाइल से रेडमी नोट 7 प्रो मोबाइल खरीदा था जिसकी कीमत 14999 है पहले तो दुकान दार ने मोबाइल का बिल नही दिया जिसकी वजह से दीपक महरा ने लगभग 300 रुपये दुकान दार के रोक रखे थे और लगातार निक्की मोबाइल के संचालक से मोबाइल के बिल की मांग करते रहे पर दुकान दार ने बिल नही दिया उलट दीपक महरा की गाड़ी की चाभी बाजार से लूट कर ले गए जिसकी सूचना दीपक महरा द्वारा 100 डायल को दी गई और पुलिस दीपक महरा को जैतहरी थाने ले गई जहां जैतहरी थाना प्रभारी द्वारा खुद दीपक महरा के साथ गाली गलौज किया गया और दुकान दार से सांठगांठ कर दीपक महरा को मोबाइल का एक ऐसा बिल दिलवाया गया जिसमें 14999 के मोबाइल की जगह 15400 रुपये का बिल बनाया गया और ऊपर से उस बिल में न तो मोबाइल की कोई डिटेल है और न ही IMEI नंबर है बिल में कई आखिर कार निक्की मोबाइल ने दीपक महरा को कौन सा मोबाइल बेंचा कल को मोबाइल में कोई दिक्कत आ जाये तो दीपक महरा कहाँ जायें वही अगर कल इस IMEI के मोबाइल की कोई शिकायत करता है कि मेरा मोबाइल चोरी हो गया है तो दीपक महरा फंस जाएगा क्यों कि दुकान दार दीपक महरा को चोरी का मोबाइल बेंचा या लूट का मोबाइल इसका कोई सबूत नही है और दीपक के बिल में कहीं भी नही लिखा कि निक्की मोबाइल ने आखिर कौन सा मोबाइल दीपक महरा को बेंचा