जनेवा । संयुक्त राष्ट्र संघ के महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने कहा कि विश्व निकाय नववर्ष में विभिन्न देशों के बीच पैदा हुई दूरियों को पाटने और विभिन्न समस्याओं का हल निकालने के लिए लोगों को एक मंच पर लाने की कोशिश जारी रखेगा। गुतारेस ने नववर्ष के अपने संदेश में विश्व निकाय के समक्ष जलवायु परिवर्तन, आतंकवाद और बढ़ती असहिष्णुता समेत कुछ शीर्ष चुनौतियों का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि पिछले साल मैंने रेड अलर्ट जारी किया और जिन खतरों का जिक्र किया था, वे अब भी बने हुए हैं। यह कई लोगों के लिए चिंता का समय है और हमारी दुनिया तनाव के दौर से गुजर रही है। जलवायु परिवर्तन हमसे तेज दौड़ रहा है। संयुक्त राष्ट्र संघ महासचिव गुतारेस ने कहा कि भू-राजनीतिक विभाजन की समस्या गहरा रही है जिससे संघर्ष का हल निकालना और मुश्किल हो गया है। रिकॉर्ड संख्या में लोग सुरक्षा की तलाश में भटक रहे हैं।
संयुक्त राष्ट्र संघ महासचिव ने कहा असमानता बढ़ रही है। लोग ऐसी दुनिया पर सवाल खड़े कर रहे हैं, जिसमें कुछ लोगों ने आधी मानवजाति जितनी संपत्ति पर कब्जा कर रखा है। संयुक्त राष्ट्र संघ के महासचिव गुतारेस ने कहा कि असहिष्णुता बढ़ रही है। विश्वास कम हो रहा है, लेकिन उम्मीद की भी कुछ वजह हैं। 
यमन पर वार्ता ने शांति का अवसर दिया है। उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र संघ जलवायु परिवर्तन पर पेरिस समझौते के कार्यान्वयन के लिए वर्क प्रोग्राम की मंजूरी के लिए कातोविस में सभी देशों को एक साथ लाने में सफल रहा है। उन्होंने कहा हाल के सप्ताह में संयुक्त राष्ट्र ने प्रवास और शरणार्थियों पर ऐतिहासिक वैश्विक समझौते भी देखे जो जिंदगियों को बचाने में मदद करेंगे। गुतारेस ने कहा कि जब अंतरराष्ट्रीय सहयोग काम करता है, तो दुनिया जीतती है। 2019 में संयुक्त राष्ट्र दूरियों को कम करने और समस्याओं के हल तलाशने के लिए लोगों को एक साथ लाता रहेगा।