क्वालालंपुर। नाक के कैंसर से पीड़ित बैडमिंटन स्टार ली चोंग वेई ने खेल को अलविदा कह दिया है। इसी के साथ एक बेहतरीन खिलाड़ी अब कोर्ट पर नजर नहीं आयेगा। वेई ने अपने शानदार करियर में कई खिताब जीते पर ओलिंपिक स्वर्ण पदक जीतने का उनका सपना अधूरा रह गया। ली संन्यास की घोषणा करते समय भावुक हो गए और उनकी आंखें नम हो गईं। इस 36 वर्षीय स्टार ने कहा, ‘मैंने भारी मन से संन्यास लेने का फैसला किया है। मैं वास्तव में इस खेल को बहुत चाहता हूं पर यह काफी दमखम वाला खेल है। मैं पिछले 19 वर्षों में सहयोग और समर्थन के लिए सभी मलयेशियावासियों का आभार व्यक्त करता हूं।’ दो बच्चों के पिता ली को पिछले साल नाक के कैंसर का पता चला था जो शुरुआती चरण में था। इसके बाद उन्होंने ताइवान में उपचार कराया और कहा कि वह वापसी करने के लिए तैयार हैं। उन्होंने हालांकि अप्रैल से अभ्यास नहीं किया और कई समय-सीमाएं तय करने और उन्हें पूरा नहीं कर पाने के कारण अगले साल टोक्यो ओलिंपिक में खेलने की उनकी उम्मीदें भी समाप्त हो गयीं थीं। ओलिंपिक में तीन बार के रजत पदक विजेता ली ने कहा कि वह अब विश्राम करके अपने परिवार के साथ समय बिताना पसंद करेंगे।