सिलिगुड़ी, रामनवमी पर पश्चिम बंगाल में सियासत एक बार फिर तेज हो गई है. कोलकाता पुलिस ने राम नवमी के अवसर पर विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के कार्यकर्ताओं को बाइक रैली निकालने की इजाजत नहीं दी है. पुलिस ने विश्व हिंदू परिषद की बाइक रैली शुरू होने के ठीक पहले इजाजत देने से मना कर दिया.

विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं से कहा गया था कि वे रैली के दौरान राम की केवल एक ही तस्वीर का इस्तेमाल करेंगे. विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं में रैली करने की इजाजत रोक दिए जाने पर भारी रोष है. पुलिस की रैली रोके जाने के बाद विहिप सदस्यों ने राम की तस्वीर के साथ भगवे झंडे के साथ स्थानीय रैली निकालने की कोशिश की.

विहिप  राम नवमी पर पश्चिम बंगाल में बड़े स्तर पर आयोजन करने वाला था. कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक विहिप के कार्यकर्ता राज्य में 700 रैलियां निकालने की तैयारी में थे.

इससे पहले सिलिगुड़ी पुलिस ने राहुल गांधी के हेलिकॉप्टर की लैंडिंग कराने से मना कर दिया था जिसके बाद कांग्रेस ने सिलीगुड़ी में होने जा रही रैली को रद्द कर दिया था. पुलिस ने इसके पीछे सुरक्षा कारणों का हवाला दिया था.

पश्चिम बंगाल में सांप्रदायिक सौहार्द के बिगड़ने की खबरें अक्सर आती रहती हैं. त्योहारों के बीच सांप्रदायिक हिंसा की खबरें भी आती रहती हैं. पिछले साल पश्चिम बंगाल के आसनसोल में रामनवमी के दिन भड़की सांप्रदायिक हिंसा बहुत चर्चा में रही थी.