स्व दलपत सिंह को दो वर्ष मे भूल गयी भाजपा
सेल्फी- गुटबाजी मे उलझे नेताओं ने नही दी श्रद्धांजलि
अजीत मिश्रा की कलम से
अनूपपुर --- भारतीय जनता पार्टी अनूपपुर जिला इकाई के पदाधिकारियो ने दो साल मे ही अपने पूर्व सांसद स्व दलपत सिंह परस्ते को भुला दिया। सेल्फी ,गुटबाजी, टिकट की दावेदारी मे उलझे किसी भी नेता या पार्टी के किसी भी मोर्चा, प्रकोष्ठ ने दो वर्ष पहले स्वर्गवासी हुए वरिष्ठ आदिवासी नेता को श्रद्धांजलि देना तक जरुरी नही समझा। सिर्फ कोतमा के वरिष्ठ नेता मनोज द्विवेदी ने सोशल मीडिया पर स्व दलपत सिंह परस्ते को याद किया  व श्रद्धांजलि दी।
‌ एक जून को शहडोल संसदीय क्षेत्र के पूर्व सांसद स्व दलपत सिंह परस्ते की द्वितीय पुण्यतिथि थी। एक वर्ष पूर्व दिखावे के लिये ही सही राजेन्द्रग्राम ,अनूपपुर सहित कुछ स्थानो पर स्व दलपत सिंह को श्रद्धांजलि कार्यक्रम रखा गया था। इस वर्ष जिलाध्यक्ष आधाराम वैश्य के साथ दो दर्जन से अधिक मोर्चा, प्रकोष्ठ तथा चुनावी साल मे दर्जनो टिकटार्थियो सहित किसी नेता ने स्व सिंह को श्रद्धांजलि नही दी न ही पार्टी ने कोई आयोजन ही किया।
दलपत सिंह परस्ते पांच बार सांसद रहे। उन्होंने छग के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी,पूर्व केन्द्रीय मंत्री दलवीर सिंह,उनकी पत्नी स्व श्रीमती राजेश नन्दिनी सिंह को पराजित किया था। उनकी मृत्यु के बाद हुए उप चुनाव मे करोडो रुपये के कार्य स्वीकृत हुए। संभाग को उनके न रहने पर बडी क्ष ति हुई है।
कहने को तो उनके ग्रह जिले अनूपपुर से   विन्ध्य विकास प्राधिकरण उपाध्यक्ष  राम दास पुरी,रामलाल रोतेल ,प्रदेश कार्य समिति सदस्य अनिल गुप्ता,सुदामा सिंह,दिलीप जायसवाल, जिलाध्यक्ष आधाराम वैश्य, अमरकंटक वि प्राधिकरण अध्यक्ष अंबिका तिवारी, अजजा आयोग अध्यक्ष नरेन्द्र मरावी कई राज्य स्तर के पदाधिकारियों और ना जाने कौन कौन से मंत्री संत्री संयोजक समाज मे जितनी भी विधा होती सभी तरीको के प्रकोष्ट के होने के बावजूद ऐसे कद्दावर नेताओं के साथ तमाम बडे बडे नेता टिकट की दावेदारी कर रहे हैं। सेल्फी ,फेसबुक ,व्हाट्स एप मे सक्रिय किसी भी नेता का दलपत सिंह के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित न करना पार्टी व नेताओं के आचरण  उनकी संवेदनशीलता पर सवाल खडे करता है। आदिवासियों के हितैसी कहलाने वाले किसी पार्टी के नेताओ ने इस आदिवासी नेता स्वर्गीय दलपत सिंह परस्ते को याद करना भी मुनासिब नही समझा 
एक नेता ने सोशल मीडिया मे स्व दलपत सिंह को श्रद्धांजलि दी भी , तो उसके बाद भी किसी छोटे - बडे नेता ने इस ओर ध्यान नही दिया।
आर के एक्सपोज दे रहा है श्रद्धांजलि:- आज हम स्वर्गीय दलपत सिंह परस्ते को श्रद्धांजलि दे रहे है और भगवान से प्रार्थना करते है कि उनकी आत्मा को शांति प्रदान करे साथ ही जिले से सभी भाजपा नेताओं को सद्बुद्धि प्रदान करे एक बार पुनः आदिवासी नेता दलपत सिंह परस्ते को श्रद्धा सुमन अर्पित