भूमाफियाओं ने लगाया गोंगपा का मुखौटा 
 
शहडोल। संभाग मुख्यालय के समिति ग्राम पंचायत कुदरी चांपा में इन दिनों भू माफियाओं की गतिविधियां चरमोत्कर्ष पर है। भूमि की दलाली का कारोबार करने वाले भू माफिया राजनीतिक दल गोंडवाना गणतंत्र पार्टी का मुखौटा लगाकर ना सिर्फ गरीब आदिवासी व अन्य वर्गों की जमीन हड़प रहे हैं बल्कि विरोध करने वालों को झूठे एट्रोसिटी एक्ट के मुकदमों में फंसाने की धमकी देते नजर आ रहे हैं।उक्त आरोप लगाते हुए जिला प्रशासन से कार्यवाही की मांग की गई है।
 
ग्राम कुदरी निवासी अजय सिंह बघेल पिता श्री अमरपाल सिंह बघेल ने कलेक्टर शहडोल को सौपे गए शिकायत पत्र में उक्त आरोप लगाते हुए बताया कि ग्राम चांपा पटवारी हल्का चांपा स्थित आराजी खसरा नंबर 53/4 रकबा 1.281 हेक्टेयर भूमि को उसने जरिए पंजीकृत विक्रय पत्र खरीदा था। गोंडवाना पार्टी के सदस्य विमल कोरचे जिला अध्यक्ष कमल आचार्य संजय जैन विकी जयसवाल आदि व्यक्तियों द्वारा ग्राम चांपा में मेडिकल कॉलेज के पास की जमीनों को लेकर अनाधिकृत रूप से प्लाटिंग कर विक्रय किया जा रहा है, इस कारण आए दिन मेडिकल कॉलेज के पास की भूमियों पर कब्जे को लेकर क्रेता एवं विक्रेता तथा सीमावर्ती काश्तकारों के मध्य विवाद की स्थिति निर्मित होती रहती है। उपरोक्त व्यक्तियों द्वारा पीड़ित के पट्टे की आराजी  विक्रय हेतु संपर्क किया गया था और जब उसने रुचि नहीं दिखाई तो आए दिन उक्त व्यक्तियों द्वारा धमकियां दी जा रही है।
 
शिकायतकर्ता ने बताया कि उसे यह धमकी भी दी गई है कि उनकी पहुंच काफी ऊपर तक है एवं वर्तमान में उनके संबंध राजनीतिक पार्टी से भी है ऐसे में यदि वे अपनी आराजी को उक्त व्यक्तियों को प्लाटिंग करने हेतु नहीं बेचा तो उनके द्वारा शिकायतकर्ता को उसकी आराजी से बेदखल करवा दिया जाएगा। इसी बात को लेकर वह गोंडवाना राजनीतिक पार्टी के लेटर पैड का दुरुपयोग करते हुए गांव के अनपढ़ व्यक्तियों के द्वारा झूठी शिकायतें भी कराते रहते हैं। उनके द्वारा यह भी धमकी दी गई है कि जो उनकी बात नहीं मानता है उसके विरुद्ध वह झूठी शिकायत के आधार पर एट्रोसिटी एक्ट की कार्यवाही भी करवा देंगे।
 
शिकायतकर्ता ने बताया कि जब से ग्राम चांपा में मेडिकल कॉलेज का कार्य प्रारंभ हुआ है मौके से हल्का पटवारी से यदि जांच रिपोर्ट मंगवा ली जाए तो वस्तु स्थिति एकदम स्पष्ट हो जाएगी कि  किस प्रकार से भू-माफिया वहां की भूमियों को अवैध तरीके से प्लाटिंग कर खुर्द बुर्द कर रहे हैं एवं मौके पर अधिकांश क्रेता को कब्जा दखल भी प्राप्त नहीं हो पा रहा है। भूमाफिया खाली भूमि को दिखाकर किसी के भी भूमि को किसी भी व्यक्ति को विक्रय कर रहे हैं यह एक गंभीर जांच का विषय है इस गोरखधंधे में राजस्व विभाग के कुछ कर्मचारियों की संलिप्तता भी स्पष्ट दृष्टव्य है। उन्होंने उक्त आरोपीगण की गतिविधियों की जांच कराकर सख्त कार्यवाही किए जाने की मांग की है।