नई दिल्ली। रेलवे ने 12 मई से चल रहीं राजधानी रूट पर चल रहीं 15 जोड़ी विशेष ट्रेनों के नियमों में महत्वपूर्ण बदलाव किए हैं। नए बदलावों के बाद अब वैसे यात्री भी सफर कर सकेंगे जिनका आरक्षण आरएसी में है। नए नियमों के अनुसार अब इन ट्रेनों में 30 दिन पहले टिकटों की बुकिंग ऑनलाइन समेत स्टेशनों पर रिजर्वेशन काउंटर पर भी कराई जा सकेगी। पहले 7 दिन का समय तय किया गया था। 12 मई से चल रही इन सभी ट्रेनों में सिर्फ एसी बोगी हैं। 
वहीं, 2 घंटे पहले होने वाला करेंट बुकिंग का विकल्प अब इन ट्रेनों में भी होगा। फिलहाल ये नियम 24 मई से लागू होंगे और 31 मई से चलने वाली ट्रेनों पर ही लागू होगा। हालांकि, इन ट्रेनों में तत्काल बुकिंग की सुविधा नहीं होगी। इन ट्रेनों में लागू निर्देशों के अनुसार आरएसी या वेटिंग लिस्ट के टिकट जारी किए जाएंगे। हालांकि वेटिंग लिस्ट वाले यात्रियों को सफर करने की इजाजत नहीं दी जाएगी। ट्रेन के रवाना होने के समय से 4 घंटे पहले पहला आरक्षण चार्ट तैयार करना होगा और रवानगी से 2 घंटे पहले दूसरा आरक्षण चार्ट तैयार होगा। इन दोनों के बीच करेंट बुकिंग की इजाजत होगी।
श्रमिक ट्रेनों में लगेंगे आइसोलेशन कोच
कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों के लिए तैयार किए गए 5,200 आइसोलेशन कोचों का 60 फीसदी (3,120 कोच) का इस्तेमाल श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाने में किया जाएगा। अधिकारियों ने बताया कि ये गैर एसी ट्रेनें दोबारा आम कोच में तब्दील नहीं की जाएंगी, मगर इनका इस्तेमाल श्रमिक स्पेशल में किया जाएगा। साथ ही ऑक्सीजन टैंक, वेंटिलेटर और अन्य चिकित्सा उपकरणों को हटा लिया जाएगा।इन कोचों में बीच की सीटें नहीं हैं। ऐसे में यात्रियों की संख्या कम ही रहेगी। हर कोच में चार टॉयलेट होते हैं, जिन्हें दो बाथरूम में तब्दील किया जाएगा। इसमें हैंड शॉवर, बाल्टी और मग होगा।