नई दिल्ली | भारत की 15 सदस्यीय टीम फाइनल की गई है, उसमें सिर्फ एक कमी थी कि टीम के पास कोई मैच फिनिशर नहीं था। हालांकि, अब ये दुविधा समाप्त होने जा रही है, क्योंकि आलराउंडर हार्दिक पांड्या को जिस उद्देश्य से टी20 विश्व कप के लिए टीम इंडिया में जगह मिली थी, उस पर वे खरे नहीं उतर रहे हैं, लेकिन उनको एमएस धौनी वाली भूमिका दी जा रही है कि वे आखिर मैं एक बल्लेबाज के तौर पर मैच फिनिश करें।

भारतीय टीम प्रबंधन द्वारा पिछले कुछ दिनों में हरफनमौला खिलाड़ी हार्दिक पांड्या की पीठ का आकलन करने के साथ, यह निर्णय लिया गया है कि वह मुख्य रूप से संयुक्त अरब अमीरात में टी20 विश्व कप में मैच फिनिशर होंगे। एएनआइ से बात करते हुए टीम के सूत्रों ने कहा कि जब गेंदबाजी की बात आती है तो हार्दिक अभी भी 100 प्रतिशत फिट नहीं हैं, लेकिन जब दबाव को अवशोषित करने और बल्ले से खेल खत्म करने की बात आती है तो उनके अनुभव को शोपीस इवेंट में जाने से नहीं रोका जा सकता।

सूत्र ने कहा, "जब गेंदबाजी की बात आती है तो वह 100 प्रतिशत फिट नहीं है, इसलिए इस विश्व कप में हार्दिक के लिए यह एक फिनिशर की भूमिका होगी। जैसे-जैसे हम आगे बढ़ेंगे, हम उसका आकलन करते रहेंगे, लेकिन वर्तमान में टीम उसे एक बल्लेबाज के रूप में देखेगी, जो एमएस धोनी की तरह ही आते हैं और फिनिशर की भूमिका निभाते हैं।" उनकी गेंदबाजी को लेकर सूत्र ने बताया, "हार्दिक जैसे व्यक्ति के साथ, आप जानते हैं कि समर्पण और प्रयास का स्तर हमेशा 100 प्रतिशत होता है। इसलिए हम उनकी गेंदबाजी पर काम करते रहेंगे।"