Monday, 11 December 2017, 5:05 PM

धर्म कर्म

सूनी गोद भर देती हैं मां कूष्माण्डा जानें, कैसे होगा यह चमत्कार

Updated on 5 October, 2016, 1:27
श्लोक: या देवी सर्वभू‍तेषु कूष्माण्डा रूपेण संस्थिता। नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।।   अवतार वर्णन: शास्त्रों के अनुसार देवी दुर्गा के चौथे स्वरूप में नवरात्र पर्व पर मां कूष्माण्डा की आराधना का विधान है, आदिशक्ति दुर्गा का कूष्माण्डा के रूप में चौथा स्वरूप भक्तों को संतति सुख प्रदान करने वाला है। इनकी... आगे पढ़े

नवरात्र में ये पाठ करने से इतना पुण्य प्राप्त होता है, जो कभी समाप्त नहीं होता

Updated on 5 October, 2016, 0:01
शरद नवरात्र एवं वसंत नवरात्र स्वास्थ्य की दृष्टि से भी बहुत उपयोगी हैं। जब इन नवरात्रों में ऋतु परिवर्तन होता है तो हमें नियमपूर्वक मन, वाणी और शरीर द्वारा शुद्ध आचरण, फलाहार तथा स्वस्थ जीवन जीने का सुअवसर प्राप्त होता है, मां भगवती साक्षात परा शक्ति प्रकृति हैं। मां दुर्गा... आगे पढ़े

तंत्र शास्त्र से: 11 अक्टूबर तक कभी भी करें ये उपाय मिलेगा धन, हारेंगे शत्रु

Updated on 4 October, 2016, 14:30
1 अक्टूबर से नवरात्र का आरंभ हो चुका है, जो 10 अक्टूबर तक चलेगा और 11 अक्टूबर को बुराई पर अच्छाई की जीत विजयदशमी का त्यौहार मनाया जाएगा। इन दिनों अपनी किसी भी समस्या का समाधान चाहते हैं तो तांत्र‌िक क्र‌ियाओं में उपयोग होने वाले स‌िंदूर का इस्तेमाल करें। प्राचीनकाल... आगे पढ़े

प्रेम और विवाह में चाहते हैं सक्सैस, इस देवी पर चढ़ाएं यह खास चीज

Updated on 4 October, 2016, 8:35
श्लोक: या देवी सर्वभू‍तेषु चंद्रघंटा रूपेण संस्थिता। नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:॥   अवतार वर्णन: पौराणिक मत अनुरूप नवदुर्गा के तीसरे स्वरूप में मां चंद्रघंटा की पूजा कि जाती है, आदिशक्ति दुर्गा का तृतीय स्वरूप उपासक की सभी बाधाओं को समाप्त करने वाला है। इनकी साधना से उपासक को सुख, सुविधा, धन,... आगे पढ़े

Success के लिए करें मां ब्रह्मचारिणी के मंत्र का जाप

Updated on 3 October, 2016, 0:15
या देवी सर्वभू‍तेषु ब्रह्मचारिणी रूपेण संस्थिता। नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।। अवतरण वर्णन: पौराणिक मत के अनुरूप नवदुर्गा के दूसरे स्वरूप में मां ब्रह्मचारिणी की पूजा कि जाती है, आदिशक्ति दुर्गा का द्वितीय स्वरूप साधको को अनंत शक्ति देने वाला है। इनकी साधना से व्यक्ति को कर्मठता, ज्ञान, वर्चस्व, अटूट श्रद्धा... आगे पढ़े

नवरात्रों में दिन के अनुसार दें कन्याअों को भेंट, मिलेगा गरीबी से छुटकारा

Updated on 2 October, 2016, 12:26
नवरात्र के नौ दिनों में माता के नौ स्वरूपों (शैल पुत्री, ब्रह्मचारिणी, चंद्रघंटा, कूषमांडा, स्कंदमाता, कात्यायनी, कालरात्रि, महागौरी तथा सिद्धिदात्री) की पूजा की जाती है जिन्हें नवदुर्गा कहते हैं। इन दिनों में कुछ उपाय करने से देवी की कृपा से घर की गरीबी दूर हो सकती है। छोटी कन्याअों को... आगे पढ़े

शुभ कामों के लिए सवर्श्रेष्ठ मुहूर्त आरंभ, 450 साल बाद दोबारा बनेगा यह विरला संयोग

Updated on 1 October, 2016, 0:41
शनिवार दिनांक 01.10.16 को पितृ-पक्ष की समाप्ति के साथ ही आदिशक्ति का महापर्व नवरात्र प्रारम्भ हो जाएगा। यह शारदीय नवरात्र पर्व शनिवार दिनांक 01.10.16 से प्रारम्भ होकर सोमवार दिनांक 10.10.16 तक रहेंगे। वर्ष 2016 में प्रतिपदा तिथि दो दिन होने के कारण नवरात्र नौ दिन की बजाय 10 दिन रहेंगे।... आगे पढ़े

नवरात्र में रखेंगे कुछ बातों का ध्यान, बढ़ेगा दिनों-दिन आपका खजाना

Updated on 30 September, 2016, 0:10
1 अक्तूबर से नवरात्र का प्रारंभ हो रहा है। भारत में हर पर्व ऋतु, इतिहास, भूगोल, आकाशीय ग्रह एवं नक्षत्र परिवर्तन, विज्ञान, संस्कृति व परंपरा आदि से जुड़ा हुआ है। नवरात्र वस्तुत: दो ऋतुओं का संगम है जब 6 महीने बाद ऋतु परिवर्तन होता है। इन मौसम में गर्मी व... आगे पढ़े

अमावस्या: पितरों को कहें अलविदा, पाएं धन कुबेर बनने का आशीर्वाद

Updated on 29 September, 2016, 9:28
जीवन काल में लोगों से पाप व पुण्य दोनों कर्म होते हैं। इन्ही कर्मो के आधार पर मृत्यु उपरांत जीव को मोक्ष या अघम प्राप्त होता है। शास्त्रानुसार यह हमारा कर्तव्य है कि हम अपने पितृ के निमित्त धर्मानुसार कुछ ऐसे कर्म करें जिससे उन्हें अघम से मुक्ति मिले अथवा... आगे पढ़े

तोता पाले: ग्रहों का अशुभ प्रभाव होगा दूर, बढ़ेगा सुख-सौभाग्य और ऐश्वर्य

Updated on 28 September, 2016, 14:45
पद्मपुराण में वर्णन आया है कि जिस घर में तोता पाला जाता है और उसका नाम भगवान के नाम पर रखा जाता है तो उस घर में राहु, केतु, शनि एवं मंगल की वक्रदृष्टि नहीं पड़ती तथा उस घर में यमराज का प्रवेश भी अत्यावश्यक होने पर ही होता है... आगे पढ़े

वैष्णो देवी के श्रृंगार को 5 देशों से विशेष विमान से आएंगे फूल

Updated on 28 September, 2016, 13:38
इस बार नवरात्र पर माता वैष्णो देवी के शृंगार के लिए पांच देशों से फूल आ रहे हैं। ब्रिटेन के लंदन, स्विट्जरलैंड, साउथ अफ्रीका, श्रीलंका और दुबई से विशेष विमानों से फूल मंगाने के लिए आर्डर जारी कर दिए गए हैं। कुछ विदेशी फूलों में भारतीय फूलों जैसी खुशबू तो नहीं होती... आगे पढ़े

भगवान गणेश का रूप है कलश

Updated on 28 September, 2016, 0:25
नवरात्रि में देवी के नौ रूपों की पूजा होती है। शुरुआत में प्रतिपदा तिथि को कलश की स्थापना की जाती है। कलश को भगवान गणेश का रूप माना जाता है। हिंदू धर्म में हर पूजा से पहले गणेश जी की पूजा का विधान है, इसलिए नवरात्रि की शुभ पूजा से... आगे पढ़े

हनुमान जी को सिंदूर क्यों चढ़ाया जाता है?

Updated on 27 September, 2016, 0:05
रामायण की एक कथा के अनुसार एक बार जगत माता जानकी सीता जी अपनी मांग में सिंदूर लगा रही थीं। उसी समय हनुमान जी आ गए और सीता जी को सिंदूर लगाते देखकर बोले, ‘‘माता जी यह लाल द्रव्य जो आप मस्तक पर लगा रही हैं, यह क्या है और... आगे पढ़े

आधी रात को करें ये अचूक उपाय, घर-परिवार में चल रही समस्याओं का होगा अंत

Updated on 25 September, 2016, 17:24
जीवन और समस्याएं एक दूसरे की पूरक हैं। जिंदगी के आरंभ से लेकर अंत तक ये पीछा नहीं छोड़ती। कुछ परेशानियां आती हैं और चली जाती हैं। कई बार ऐसा होता है की ये दीमक की भांति चिपक जाती हैं और खुशहाल जीवन को खोकला करने लगती हैं। ज्योतिषशास्त्र में... आगे पढ़े

काशी में टूटी सदियों पुरानी परंपरा, किन्नरों ने किया श्राद्ध

Updated on 25 September, 2016, 9:51
वाराणसी विश्व की धार्मिक व सांस्कृतिक राजधानी कही जाने वाली काशी में शनिवार को सदियों पुरानी परंपरा वैदिक मंत्रों के बीच टूट गयी। अब तक ज्ञात इतिहास में पहली बार पितृपक्ष की नवमी तिथि पर पिशाचमोचन कुंड पर किन्‍नरों ने अपने पितरों का याद करते हुए त्रिपिंडी श्राद्ध किया। इस श्राद्ध... आगे पढ़े

वैज्ञानिकों ने गंगाजल की पवित्रता पर लगाई मुहर, हैजा और टीबी का इलाज संभव

Updated on 25 September, 2016, 9:51
हिन्दू धर्म में विशेष महत्व रखने वाली गंगा नदी की पवित्रता पर अब वैज्ञानिकों ने भी मुहर लगा दी है. टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार चंडीगढ़ स्थित माइक्रोबियल टेक्नोलॉजी संस्थान (इमटेक) के वैज्ञानिकों ने अपने शोध में गंगा जल में एक खास तरह का बैक्टिरियोफेजेज वायरस की पहचान की... आगे पढ़े

समझें कौए के इशारे, बताता है भविष्य में क्या होगा आपके साथ

Updated on 25 September, 2016, 9:30
6 सितंबर से पितृ पक्ष का आरंभ हो चुका है, जो 30 सितंबर तक चलेगा। इस समय में पितरों को खुश कर उनकी कृपा प्राप्त करने के लिए तर्पण, पिंडदान आदि करने का विधान है। प्राचीनकाल से श्राद्ध के दिनों में कौओं को भोजन खिलाने की परंपरा चली आ रही... आगे पढ़े

रब्बीनूर श्री गुरु नानक देव जी की पुण्यतिथि कल: जानें, उनके जीवन की खास बातें

Updated on 24 September, 2016, 13:38
रब्बीनूर पहली पातशाही श्री गुरु नानक देव जी की कल 25 सितंबर, रविवार को पुण्य तिथि है। नानकशाह आदि गुरु हैं। आप का जन्म राय भोए की तलवंडी में 1469 ई. में मेहता कल्याण दास जी के घर माता तृप्ता जी की कोख से हुआ। आप जी के जन्म दिन... आगे पढ़े

घर पर काली मिर्च से करें टोने-टोटके, शनि होंगे बलवान भरेंगे भंडार

Updated on 24 September, 2016, 0:00
ज्योतिषशस्त्रियों की मानें तो काली मिर्च शनि ग्रह का कारक पदार्थ है, जो कष्टों से मुक्ति दिलाता है। रसोई में उपयोग होने वाली काली मिर्च बचा सकती है शनि के अशुभ प्रभाव से। दिखने में छोटी गोल काली मिर्च न केवल सेहत के लिए प्रभावशाली है बल्कि नियति का लिखा... आगे पढ़े

सिर्फ मरे हुए लोगों का काल नहीं है पितृपक्ष

Updated on 23 September, 2016, 9:18
श्रावण मास से मार्गशीर्ष तक सम्पूर्ण विश्व में कोई न कोई त्योहार या पर्व मनाया जाता है। त्योहार से आशय किसी उत्सव से है और पर्व का अभिप्राय किसी विशिष्ट काल, पुण्य काल, खण्ड, अंश या अध्याय से। यानि पर्व जीवन का वह अध्याय, अंश, या खण्ड है, जिसमें हम... आगे पढ़े

कल खरीदारी के लिए शुभ मुहूर्त, देवता धरती पर रहेंगे विराजमान

Updated on 22 September, 2016, 12:20
पूर्णिमा के श्राद्ध से पितृपक्ष का प्रारंभ हो चुका है। आने वाली 30 सितंबर को सर्वपितृ अमावस्या अर्थात सर्वपित्री श्राद्ध तक लोग अपने पितृगण के निमित्त तर्पण, पिंडदान, श्राद्ध और दान-पुण्य करते रहेंगे तथा सभी शुभकार्यों पर विराम लगा रहेगा। शास्त्रानुसार संपूर्ण पितृपक्ष में एकमात्र शुभ दिन माना जाता है... आगे पढ़े

ऐसा दोष जिससे होती है दुर्भाग्य में वृद्धि, मुक्ति हेतु करें ये उपाय

Updated on 22 September, 2016, 0:28
पितरों की अतृप्ति के कारण वंश को जिन कष्टों का सामना करना पड़ता है, उसे पितृ दोष कहा जाता है। इस दोष से दुर्भाग्य में भी वृद्धि होती है। पितृ दोष एक ऐसा दोष है जो अधिकतर कुंडली में होता है। इस प्रकार का दोष होने पर व्यक्ति को कई... आगे पढ़े

9 Thursday करें ये काम, कभी नहीं आएगा जीवन में बुरा समय

Updated on 22 September, 2016, 0:23
भक्ति परंपरा के प्रतीक माने जाने वाले साईं बाबा को चमत्कारी पुरुष, अवतार, संत-महात्मा, गुरु और भगवान का प्रतिरूप कहा गया है। साईं की उपासना हर धर्म के मानने वाले पूर्ण श्रद्धा से करते हैं। साईं बाबा के जन्म से संबंधित कोई भी जानकारी पूर्ण रूप से प्राप्त नहीं है।... आगे पढ़े

मुक्ति के प्रथम द्वार पर करें पिंडदान, श्री विष्णु संग 33 करोड़ देवी-देवता देंगे पितरों को मोक्ष

Updated on 21 September, 2016, 0:16
पितृपक्ष में श्राद्ध कर्म कर पिंडदान और तर्पण करने से पूर्वजों की सोलह पीढ़ियों की आत्मा को शांति और मुक्ति मिल जाती है। प्रयाग को पितरों की मुक्ति के लिए प्रथम व मुख्य द्वार माना जाता है। यहां पिंडदान का विशेष महत्व है। प्रयाग के संगम पर हजारों श्रद्धालु पिंडदान... आगे पढ़े

हर बुधवार करें ये काम, गणपति पूरी करेंगे हर आस

Updated on 21 September, 2016, 0:16
हिंदू संस्कृति और पूजा में भगवान श्री गणेश जी को सर्वश्रेष्ठ स्थान दिया गया है। प्रत्येक शुभ कार्य में सबसे पहले भगवान गणेश की ही पूजा अनिवार्य बताई गई है। देवता भी अपने कार्यों को बिना किसी विघ्न से पूरा करने के लिए गणेश जी की अर्चना सबसे पहले करते... आगे पढ़े

कर्ज के चक्रव्यूह में फंसे बचें तारों की चाल से, मंगला चौथ पर करें विलक्षण उपाय

Updated on 20 September, 2016, 8:57
ज्योतिषशास्त्र के अनुसार किसी भी माह के मंगलवार पर पड़ने वाली चतुर्थी तिथि को मंगला चौथ या अंगारक चतुर्थी कहते हैं। धार्मिक मतानुसार भगवान गणपती का जन्म चतुर्थी तिथि पर हुआ था। इसी कारण चतुर्थी तिथि गणपती को अत्यधिक प्रिय है। भारतीय ज्योतिषशास्त्र में श्रीगणेश को चतुर्थी का स्वामी बताया... आगे पढ़े

शनि-मंगल का छूटा साथ: जीवन में जुड़ेंगे नए अध्याय, रहें सावधान

Updated on 19 September, 2016, 0:02
शनि व मंगल दोनों ही पाप ग्रहों में से एक हैं। दोनों ही परस्पर शत्रुता भी रखते हैं। अतः जहां कहीं भी यह साथ हो जीवन को कष्टकर बनाते ही हैं। कुंडली में इनका मिलन शुभता का नाश कर व्यक्ति को परेशानियों में डाल देता है। जहां एक ओर मंगल... आगे पढ़े

2016 में नहीं मिल पाएगा पितरों को मोक्ष, करना होगा 2017 के श्राद्ध पक्ष का इंतजार

Updated on 18 September, 2016, 9:23
शास्त्र बृहत पराशर होरा शास्त्रनुसार संसार के सभी जीवों पर बृहस्पति का प्रभाव सर्वाधिक रूप से जीवन पर पड़ता है। गुरु ग्रह को भाग्य, धर्म, अध्ययन, ज्ञान विवेक, मोक्ष, दांपत्य में स्थिरता, यात्रा, क्रय-विक्रय, शयनकक्ष व अस्वस्थता व उपचार का कारक माना गया है। कालपुरुष सिद्धांतानुसार बृहस्पति को सातवें व... आगे पढ़े

ज्योतिष भविष्यवाणी: सूर्य ने किया राशि परिवर्तन, बदलेगी जीवन की दशा और दिशा

Updated on 17 September, 2016, 14:15
नवग्रह के राजा सूर्यदेव शुक्रवार दिनांक 16.09.16 शाम 06 बजकर 48 मिनट पर कन्या राशि में प्रवेश कर गए हैं। पृथ्वी के वायुमंडल तथा जनजीवन पर सूर्य का सबसे अधिक प्रभाव पड़ता है। वैसे तो सूर्य को आत्मा का कारक और ग्रहों का राजा माना जाता है, परन्तु यह पाप... आगे पढ़े

श्राद्ध: आपके जीवन में भी हैं ये समस्याएं, समझ जाएं पितृ हैं नाराज

Updated on 17 September, 2016, 9:15
जो लोग दान, श्राद्ध, तर्पण आदि नहीं करते, बडे़ बुजुर्गो का आदर सत्कार नहीं करते, पितृगण उनसे हमेशा नाराज रहते हैं। इसके कारण वे या उनके परिवार के अन्य सदस्य रोगी, दुखी और मानसिक और आर्थिक कष्ट से पीड़ित रहते हैं। वे निःसंतान भी हो सकते हैं अथवा पितृदोष के... आगे पढ़े