मेहरबाँ क्या गये कदर दान गायब हो रहे- विजय उरमलिया की कलम से

अनूपपुर - जिले के पुलिस अधीक्षक का ट्रांसफर क्या हुआ कई थानों के थाना प्रभारियों को मानो सांप सूंघ गया, कई तो साहब के जाते ही यूँ छुट्टियों पे गए जैसे महरबाँ क्या गए कदर दानों के गायब होने की शुरुआत हो गई,दरअसल पिछले कुछ महीनों में अनूपपुर पुलिस पे कई तरह के आरोप प्रत्यारोप का दौर चल रहा था, कि साहब की मेहरबानी से ये वो बहुत सारी बाते पान की गुमटियों से लेकर चाय के ठेलों तक सुर्खियां बटोर रही थी,पर अचानक साहब का जाना क्या हुआ कई थाना प्रभारी छुट्टियों में निकल पड़े अब ये हमारी जानकारी का अभाव समझ लीजिए या फिर वाकई में छुट्टियों के पीछे कोई राज छुपा है जो सायद हमे भी नही पता,सबसे खासम खास कहे जाने वाले फुनगा प्रभारी जादौन साहब भी इसी कड़ी में एक नाम है दूसरा नाम आज कल व्यंकटनगर के नए प्रभारी बने भारत सिंह जी है,जिले के मुखिया  साहब का इधर विदाई समारोह संम्पन हो रहा था वहाँ उनकी छुट्टियों का दौर शुरू हुआ आप को जानकर हैरानी होगी इधर साहब जा रहे थे उधर 4और 5 तारिक को ये थाना प्रभारी महीने भर की छुट्टियों में चले गये ,और  चर्चाओं में सुमार रहे दोनो अधिकारियों का महीने भर की छुट्टियों में अचानक से जाना किसी के गले नही उतर रहा,अब तो पान की गुमटियों से लेकर चाय के प्याली के साथ एक ही चर्चा बाजार में गर्म है कि मेहरबाँ क्या गये कदरदां छुट्टियों पे जाने लगे या फिर ये भी सायद छुट्टियां तो बहान है अब इनको भी अपने नये आशियाने पे जाना है,
जादौन साहब के बारे में तो हमारे विष्वस्त्र सूत्र बताते है कि फुनगा चौकी में जादौन साहब का हाल तो ऐसा था कि वहां उनके अधीनस्थ काम करने वाले अधिकारी मेरे लिए तो अधिकारी ही है जादौन साहब के लिए वो भले कर्मचारी हो अपनी पीड़ा व्यक्त नही कर सकते थे बाथरूम जाना हो तो साहब को बता कर जाना पड़ता था और खाने के लिए तो बिन पूंछे जा ही नही सकते और तो और छोड़िए फुनगा चौकी में जादौन साहब को खबर और खबर नवीसों से भी ऐतराज था, अब आप साहब के भौकाल का अंदाजा लगाइए और मुस्कुराइये आप अनूपपुर पुलिस की जिम्मेदारी में तब खुले में घूम रहे है जब उनका खुद का स्टाप बिना परमिशन के खाना खाने नही जा सकता था,बहर हाल जो भी हो जिले की नई कप्तान साहिबा से उम्मीदें है कि आप अनूपपुर में है और पुलिस के साथ जनता भी मुस्कुरा कर कहे कि हम अनूपपुर में है यही उम्मीद अनूपपुर जिले की अच्छी पुलिस और आम जनता की है