वाशिंगटन । अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप जल संरक्षण को लेकर काफी गंभीर दिखते हैं, शुक्रवार को व्हाइट हाउस में उन्होंने कहा कि वह अमेरिकी शौचालयों में 10-15 बार ‘फ्लश’ करने की समस्या का संज्ञान ले रहे हैं और इससे अमेरिकियों को निजात दिलाना उनका लक्ष्य है। ट्रम्प ने एक उच्च-स्तरीय बैठक में कहा कि सरकार देश के स्नानगृहों एवं शौचालयों में पानी का प्रवाह तेज नहीं होने की समस्याओं को गंभीरता से देख रही है। राष्ट्रपति ट्रंप के जीवन का अधिकांश हिस्सा रियल एस्टेट सौदों और निर्माण कार्य के व्यवसाय में बीता है। उन्होंने कहा, ‘आप नल चालू करते हैं और आपको पानी नहीं मिलता है। वे स्नान करते हैं और पानी टपकता रहता है।’ ट्रंप ने कहा, ‘लोगों को एक बार की जगह 10-15 बार शौचालयों को फ्लश करना पड़ रहा है। नल से इतना कम पानी आ रहा है कि आप अपने हाथ भी ढंग से धो नहीं पाते।’ राष्ट्रपति ने कहा कि उन्होंने संघीय पर्यावरण प्राधिकरण (ईपीए) को पानी के उपयोग पर नियमों को आसान बनाने का निर्देश दिया था। उन्होंने रेगिस्तानी क्षेत्रों में जल संरक्षण की अपील की।