आईसीसी की टेस्ट ऑलराउंडर रैंकिंग में दूसरे स्थान पर विराजमान भारतीय खिलाड़ी रवींद्र जडेजा आज अपना 31वां जन्मदिन मना रहे हैं। इनका जन्म 6 दिसंबर 1988 को गुजरात के नवागाम में हुआ था। जडेजा ने 8 फरवरी 2009 को श्रीलंका के खिलाफ वनडे मैच मे अपने इंटरनेशनल क्रिकेट करियर की शुरुआत की थी। खिलाड़ियों में सर रवींद्र जडेजा के नाम से मशहूर इन्होंने 156 वनडे मैचों में 30.84 की औसत से 2128 रन बनाए हैं और 178 विकेट भी झटके हैं। वहीं टेस्ट क्रिकेट में जडेजा ने 48 मैचों में 1844 रन बनाने के अलावा 211 विकेट लिए हैं।
मौजूदा वक्त में टीम के अहम सदस्य और स्टार खिलाड़ी रवींद्र जडेजा भले ही आज दुनिया के टॉप ऑलराउंडरों की लिस्ट में शामिल हैं, लेकिन यहां तक पहुंचने के लिए उन्हें काफी मेहनत करनी पड़ी। जडेजा ने साल 2006-07 में दिलीप ट्रॉफी के साथ अपने प्रथम श्रेणी करियर की शुरुआत की। इसके बाद 2006 और 2008 में उन्हें अंडर-19 वर्ल्ड कप में भारत की तरफ से खेलने का मौका मिला।
साल 2008 का वो वर्ल्ड कप जडेजा के करियर का टर्निंग पॉइंट बना जब उन्होंने विराट की अगुवाई में शानदार ऑलराउंड प्रदर्शन किया और उप-कप्तान के रूप में टीम को चैंपियन बनाने में अहम भूमिका निभाई। घरेलू क्रिकेट में तीन तिहरे शतक लगाकर रवींद्र जडेजा ने टेस्‍ट टीम का दरवाजा भी खटखटा दिया। यह बल्लेबाजी का ऐसा रिकॉर्ड है जो टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली एक बार भी नहीं बना पाए हैं। उनका प्रथम श्रेणी क्रिकेट में सर्वाधिक स्कोर 254 है जो उन्होंने साउथ अफ्रीका के खिलाफ बनाया था।